राहत इंदौरी शायरी, rahat indori shayri images

राहत इंदौरी शायरी, rahat indori shayri images- Dosto rahat indori ji ek mahan lekhak or shayar hai. Haal hi me unka nidhan ho gaya corona ke karan. Unki yaade or baate hi reh gayi hai ab. Unhi ke likhe hue kuchh khaas lavzo or shayari ko hum aapke saamne laaye hai. Aisi shayari jo apko ek naya nazariya degi dekhne kaaa. Padhiya shayari aur maza lijiye ek prasidh shayar ke shayari ka. 


Iss post me apko milegi rahat ji ki shayari, rahat indori shayari, hindi quotes images of rahat indori, राहत इंदौरी शायरी, all time Best rahat sir indore wale ki shayari, zindagi par shayari, sad rahat sir shayari, kisike baap ka hindostan thodi hai shayari, love mohabbat rahat shayari. 

Rahat indori shayri

Rahat indori shayri
जागने की भी जगाने की भी आदत हो जाये, 
काश तुझे भी किसी शायर से मोहब्बत हो जाये... 

Rahat indori shayri
किसने दस्तक दी है दिल पर कौन है , 
आप तो अंदर हैं, बाहर कौन है... 

Rahat indori shayri
सूरज, सितारे, चाँद मेरे साथ में रहें, 
जब तक तुम्हारे हाथ मेरे हाथ में रहें, 
शाखों से टूट जाए वो पत्ते नहीं हैं हम, 
आंधी से कोई कह दे की औकात में रहें... 

Rahat indori shayri
हर एक हर्फ़ का अंदाज़ बदल रखा हैं, 
आज से हमने तेरा नाम ग़ज़ल रखा हैं, 
मैंने शाहों की मोहब्बत का भरम तोड़ दिया, 
मेरे कमरे में भी एक “ताजमहल” रखा हैं... 

राहत इंदौरी शायरी हिंदी


राहत इंदौरी शायरी हिंदी
गुलाब, ख्वाब, दवा, ज़हर, जाम क्या क्या हैं, 
में आ गया हु बता इंतज़ाम क्या क्या हैं, 
फ़क़ीर, शाह, कलंदर, इमाम क्या क्या हैं, 
तुझे पता नहीं तेरा गुलाम क्या क्या हैं... 

राहत इंदौरी शायरी हिंदी
जो आज साहिब-ए- मनसद है कल नहीं होंगे, 
किरायेदार है जाती मकान थोड़ी है, 
सभी का खून है यहाँ की मिटटी में, 
किसी के बाप का हिन्दुस्तान थोड़ी है... 

राहत इंदौरी शायरी हिंदी
सफ़र की हद है वहां तक की कुछ निशान रहे, 
 चले चलो की जहाँ तक ये आसमान रहे, 
    ये क्या उठाये कदम और आ गयी मंजिल, 
 मज़ा तो तब है के पैरों में कुछ थकान रहे... 

राहत इंदौरी शायरी हिंदी
राह में ख़तरे भी हैं लेकिन ठहरता कौन है, 
मौत कल आती है आज आ जाए डरता कौन है... 

राहत इंदौरी शायरी हिंदी
ये दुनिया है इधर जाने का नईं, 
मेरे बेटे किसी से इश्क़ कर, 
मगर हद से गुजर जाने का नईं... 

Rahat indori ki shayari



Rahat indori ki shayari
ये हादसा तो किसी दिन गुज़रने वाला था, 
मैं बच भी जाता तो इक रोज़ मरने वाला था... 

Rahat indori ki shayari
वफ़ा को आज़माना चाहिए था,
हमारा दिल दुखाना चाहिए था.. 

Rahat indori ki shayari
लोग हर मोड़ पे रुक-रुक के संभालते क्यू है
इतना डरते है तो घर से निकलते क्यू है..

Rahat indori ki shayari
जंग होती थी जहा तुम भी वही रहते थे
हा मगर अगली सफॉ मे तो हम ही रहते थे... 

Rahat indori ki shayari
कश्ती तेरा नसीब चमकदार कर दिया, 
इस पार के थपेड़ों ने उस पार कर दिया... 

Rahat indori sad shayari images



Rahat indori sad shayari images
अब फिरते हैं हम रिश्तों के रंग-बिरंगे ज़ख्म लिये, 
सबसे हँस कर मिलना-जुलना बहुत बड़ी बीमारी है,
दौलत बाज़ू हिकमत गेसू शोहरत माथा गीबत होंठ, 
इस औरत से बच कर रहना, ये औरत बाज़ारी है... 

Rahat indori sad shayari images
वो चाहता था कि कासा खरीद ले मेरा,
मैं उसके ताज की क़ीमत लगा के लौट आया... 

Rahat indori sad shayari images
आँख में पानी रखो होंटों पे चिंगारी रखो,
ज़िंदा रहना है तो तरकीबें बहुत सारी रखो... 

Rahat indori sad shayari images
मैंने अपनी खुश्क आँखों से लहू छलका दिया,
इक समंदर कह रहा था मुझको पानी चाहिए... 

Also read:





Kaisi lagi apko ye rahat indori romantic shayari in Hindi images. Rahat sir to chale gaye, par wo khud ko amar bana gaye apne poem, shayari, ke roop me. Logg unki shayari aane wale samay me bahut khusi or ullas se padhege. Hame pura vishwas hai ki apko ye shayari pasand aayi hogi. Agar haa to share kare inn behetareen shayari ke ansho ko. 

Post a comment